छत्तीसगढ़ की गणतंत्र दिवस झांकी को राष्ट्रीय पुरस्कार


छत्तीसगढ़ की गणतंत्र दिवस झांकी को राष्ट्रीय पुरस्कार|.रक्षामंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमन के हाथों आज मिलेगा पुरस्कार

27 जनवरी 2018/ दुनिया की सबसे पुरानी नाट्यशाला के रूप में प्रसिद्ध छत्तीसगढ़ के रामगढ़ की झांकी को नई दिल्ली में आयोजित गणतंत्र दिवस के राष्ट्रीय समारोह में तीसरा पुरस्कार घोषित किया गया है। उल्लेखनीय है कि कल 26 जनवरी को वहां राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी सहित देश-विदेश के आमंत्रित अतिथियों और लाखों लोगों के बीच राजपथ पर देश के विभिन्न राज्यों की झांकियों का प्रदर्शन किया गया। इसमें छत्तीसगढ़ सरकार के जनसम्पर्क विभाग की झांकी को तीसरा पुरस्कार मिला है। यह झांकी सरगुजा जिले में दुनिया की सबसे पुरानी नाट्यशाला के रूप में विख्यात रामगढ़ की पहाड़ी गुफाओं पर केन्द्रित है। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने छत्तीसगढ़ की झांकी को राष्ट्रीय पुरस्कार के लिए चयनित होने पर खुशी प्रकट की है और इसके लिए जनसम्पर्क विभाग सहित सरगुजा जिले की जनता तथा प्रदेशवासियों को बधाई दी है। उल्लेखनीय है कि कल गणतंत्र दिवस के राष्ट्रीय समारोह में झांकियों के प्रदर्शन में महाराष्ट्र को प्रथम और असम को दूसरा स्थान प्राप्त हुआ। रक्षामंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमन कल 28 जनवरी को सवेरे 10.30 बजे नई दिल्ली स्थित राष्ट्रीय रंगशाला शिविर में इन झांकियों को पुरस्कार प्रदान करेंगी।